Wednesday, October 28, 2020 - 19:43

GONDWANA CHHATTISGARH NEWS (WEB)
(आदित्य कुमार उदय)
छत्तीसगढ़ प्रदेश की पंचायत राज चुनाव में इतना तो तय है की अशंकाओं और अपेक्षाओं से सरकार की नीतियों और चुनौतियां फौरी तौर पर जहाँ फुर्ती दिखाई दी। महज नरमीगोचर सवाल यह है कि कोरिया जिले के भीतर अधिकांश पंचायतों में जनप्रतिनिधि व क्षेत्रीय स्तर पर विधायक और सांसद सदस्य प्रदेश सतारुढ कांग्रेस पार्टी की ओर से चुने गए हैं। बहरहाल सवाल यह है कि चुनावी आस्था और जीत की ढोल पीटने वाले राजनीतिक वारिस कुछ हल्को में काबिलियत साबित की। गौरतलब यह समझ से परे है कि जिला पंचायत की शीर्ष सीट पर कब्जा करने में कांग्रेस पार्टी कुल मिलाकर नाकाम रही। वहीँ चुनावी दौर में खिलाफत जा रहे माहौल को पलटने के लिए भारतीय जनता पार्टी के समर्थित उम्मीदवार श्री मति रेणुका सिंह ने जिला पंचायत अध्यक्ष की यह महत्वपूर्ण सीट को 4-6 से जीत कर भाजपा की झुके हुए सिर को पुन: उठा दिया है। बहरहाल कोरिया जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में इस जीत के लिए सियासी दलों व कांग्रेस पार्टी के समर्थित उम्मीदवारों से मोहभंग कर भाजपा ने ऐसा दांव चला कि अध्यक्ष की यह कुर्सी कांग्रेस पार्टी के लिए दूर की कौड़ी हो गई। मसलन सार्थक सवाल तो यह है कि जिला पंचायत कोरिया के अध्यक्ष पद पर अब तक कम पढ़े लिखे ही सत्तासीन होते थे।लिहाजा महिलाओं के बीच दहलिज लाँघ कर, दल कोई भी हो गरिमामय कुर्सी तक पहुंचने वाले रेणुकासिंह जो उच्च काबिल पढ़े लिखे नेतृत्व उभर कर आने से जिले के तस्वीर बदल सकती है।
चुनाव जीतने के बाद गोंडवाना छत्तीसगढ़ न्यूज द्वारा पूछे गए कुछ सवालों के जवाब में नव निर्वाचित जिला अध्यक्षा रेणुका सिंह ने इस लिहाज से जबाव दिया कि, पद मेरे लिये उतना अहमियत नहीं रखता, जितना की गॉव के वह गैर असमानता से जी रहे,क्षेत्र के वे जनता बड़ी उम्मीद के साथ भेजा है तथा जिन्होने मुझे अपना आवाज समझा तथा इस काबिल बनाया मसलन सेवा का अवसर दिया है। जिनके सेवा के लिये मैं हमेशा उनके साथ खड़ी रहूँगी। तथा जन भावनाओं के अनुकूल उनके अपेक्षाओं पर खरा उतरुं। यही मेरी कोशिस होगी। यह भी जान लें कि कोरिया जिले से तकरीबन 70 किलोमीटर दूर खड़गवाँ जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत मन्गोरा निवासी रेणुकासिंह गोंड समाज के प्रतिष्ठित परिवार से हैं। जिनके पति छत्तीसगढ़ राज्य प्रशासनिक सेवा में गौरतलब अंचल के पहली प्रशासनिक अधिकारी हैं।

शेयर करे

Add a Comment

जनता की राय

क्या पेट्रोल को GST में लाना चाहिए ?

User login