Wednesday, October 28, 2020 - 19:26

लखनपुर
उदयपुर विकासखंड के ग्राम केदमा में जन जागृति सम्मेलन आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि भानु प्रताप सिंह मरकाम संभागीय अध्यक्ष छत्तीसगढ़ आदिवासी विकास परिषद जिला सरगुजा मुख्य अतिथि समाजसेवी विनोद हर कार्यक्रम के अध्यक्ष प्रेम सिंह जनपद सदस्य केदमा विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय एकता परिषद के प्रदेश अध्यक्ष रिटायर्ड सूबेदार मेजर पोलिश कुजूर धर्म एकता छत्तीसगढ़ प्रभारी राष्ट्रीय एकता परिषद साहू समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष साहू बिहारी लाल तिर्की सामाजिक कार्यकर्ता आज जन जागृति सम्मेलन में संतोष साहू ने संविधान की व्याख्या करके 5 वी और 6 वी अनुसूची के बारे में विस्तार से बताया हाथी कार्य डोर लेमरू के आधारशिला और 140 गांव के विस्थापन पर होने वाला त्रासदी का विस्तार से बताया बिहारीलाल तिर्की ने कहा कि क्षेत्रों में हाथी प्रभावित क्षेत्रों के रूप में शासन से विस्थापन की जांच होना चाहिए शासन के यह निर्णय पर पुनर्विचार करना चाहिए। विनोद हर्ष ने कहा कि जमीन हम 1 इंच भी नहीं देंगे इसके लिए हमें जान भी देना पड़े तो मंजूर होगा। भानु प्रताप सिंह मरकाम ने कहा कि शासन बिना पूछे पांचवी अनुसूची क्षेत्रों में ग्राम सभा के अनुमति बिना नहीं ले सकती है। हमारे क्षेत्रों में अमेरा खदान परसा केते तारा प्रस्तावित हरिहरपुर घाटबर्रा प्रस्तावित है पावर प्लांट नारायण पुर उदयपुर ब्लॉक परसा केते आदि प्लांट लगाकर क्षेत्रों के निवासियों को विस्थापित किया जा रहा है क्षेत्र की जनता को स्वीकार नहीं है कहा कि क्षेत्र कहां थी प्रभावित क्षेत्र नहीं है यहां झारखंड उड़ीसा बिहार बंगाल के हाथियों को दूसरे प्रदेश के लोग यहां किस तरह लाए उन्हें पता नहीं मेजर पोलिश एक्का ने कहा की क्षेत्र की जनता को जागृत होना चाहिए बिना जागृति के क्षेत्र के कोई भी कार्य संभव नहीं है जगेश्वर तिर्की ने कहा कि विस्थापन कर डर हमें सता रहा है मूलनिवासी अलग-थलग और गरीब होंगे कार्यक्रम का संचालन सोमार साहब अरबा की आकृति और विजय टोप्पो रहे सरगुजा रायगढ़ कोरिया सूरजपुर के 3000 लोग इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

शेयर करे

Add a Comment